राजस्थान के भानगढ़ किले का रहस्य

Unsolved Mysteries

सन् 1613 में राजा माधो सिंह ने भानगढ़ किले को बनवाया। भारत में जब भी भूतिया जगहों की बात की जाती है, तो राजस्थान के भानगढ़ किले का जिक्र अवश्य होता है। अब इसके किस्से दुनिया भर में मशहूर होते जा रहे हैं और अलग-अलग स्थानों से लोग इस जगह को देखने आते हैं। मगर किसी को भी यहाँ रात में घूमने की आज़ादी नहीं है। तो इसकी वजह क्या है, आइए जानते हैं-

गुरू बाला नाथ का शाप-

राजा माधो सिंह के भानगढ़ किले को बनवाने से काफी पहले, उस जगह पर गुरू बाला नाथ रहा करते थें। वे वहाँ ध्यान लगाया करते थें। जब राजा माधो सिंह ने गुरू बाला नाथ से वहाँ भानगढ़ किले को बनवाने की अनुमति मांगी, तो उन्होंने अनुमति तो दे दी, मगर एक भयानक शर्त भी रखी-

उन्होंने कहा- “जिस पल तुम्हारे महल की परछाई मुझे छुएगी, उस पल से तुम्हारे महल का विनाश शुरू हो जाएगा।”

राजा माधो सिंह ने उनकी चेतावनी को नज़रअंदाज़ कर दिया और भानगढ़ किले को बनवाया। जैसा किस्मत में लिखा था एक रोज महल की परछाई गुरू बाला नाथ को छू गई। इसके बाद महल का विनाश शुरू हो गया और वह किला तहस-नहस हो गया। पर बात यहीं तक सीमित नहीं है। इसके बाद जब भी कोई किले के आस-पास घर बनाता, उसकी छत अपने आप नीचे गिर जाती थी। कोई भी इसका कारण नहीं समझ पाया और जल्दी ही वह पूरा इलाका एक खंडहर में बदल गया। यह सब कुछ गुरू बाला नाथ के शाप की वजह से हुआ था।

राजकुमारी रत्नावती और काला जादू करने वाला सिंघिया-

रत्नावती भानगढ़ की राजकुमारी थी। वह बेहद ख़ूबसूरत और मोहक थी। जिसकी वजह से एक काले जादू करने वाले का दिल उनपर आ गया। उसका नाम सिंघिया था। अपने काले जादू के जरिये उसने राजकुमारी को पाने की कोशिश की। जब यह बात राजकुमारी रत्नावती को पता चली, तो उन्होंने फौरन सिंघिया को मार डालने का फरमान जारी कर दिया। मरने से पहले उसने भानगढ़ के सभी वासियों को मरने का शाप दे डाला और यह भी कहा कि यह पूरा किला खंडहर में बदल जाएगा। इसके बाद एक भयानक युद्ध भानगढ़ और अजबगढ़ के बीच छिड़ गया जिसमें राजकुमारी रत्नावती को मौत के घाट उतार दिया गया और भानगढ़ भी तहस-नहस हो गया। इस तरह से उस काले जादू करने वाले का शाप फलित हो गया।

वैसे तो अब यह जगह वीरान हो चुकी है। दिन के वक्त भले ही यह जगह सैलानियों से भरी रहती हो, मगर रात घिरते ही यहाँ अजीब सी मनहूसियत वास करने लगती है, क्योंकि तब यह शापित जगह भूतों और प्रेतों का ठिकाना बन जाता है। यहाँ प्राण गँवाने वाले लोग अब भी इस जगह पर घूमा करते हैं।
***

Ritu Raj

मेरा नाम ॠतु राज है और मैं आपका Magical Hindi Stories में स्वागत करता हूँ। मेरी कोशिश आप सभी पाठकों तक ऐसी नई और रोचक हिंदी कहानियाँ पहुँचाने की है, जिन्हें आप अवश्य पढ़ना चाहेंगे।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: